दशहरा पर खरीदें सोना-चांदी; होगा शुभ

दशहरा यानी विजयादशमी कल है। बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक। इस दिन हम रावण को जलाते हैं। आश्विन मास में नवरात्रि का समापन होने के दूसरे दिन यानी दशमी तिथि को दशहरा मनाया जाता है। इस दिन खरीदारी करना शुभ माना जाता है। इसमें सोना, चांदी और वाहन की खरीद बहुत ही महत्वपूर्ण है। Continue reading “दशहरा पर खरीदें सोना-चांदी; होगा शुभ”

Advertisements

कश्मीर में आतंकी घुसपैठ की कोशिश की नाकाम

पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। वह कश्मीर में लगातार आतंकियों की घुसपैठ को अंजाम देने की कोशिश कर रहा है। मंगलवार को ऐसी ही कोशिश को भारतीय सेना ने नाकाम कर दिया। बताया जाता है कि कुपवाड़ा में पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम यानी बैट ने 7-8 हथियारबंद घुसपैठियों को सीमा पार भेजने की कोशिश की, जिसे भारतीय जवानों ने नाकाम … Continue reading कश्मीर में आतंकी घुसपैठ की कोशिश की नाकाम

उपेक्षित जातियों के उत्थान से नहीं हटे पीछे

महंत अवेद्यनाथ ने कहा कि हिंदू जीवन पद्धति दुनिया की श्रेष्ठतम जीवन पद्धति है। ऐसे श्रेष्ठतम संस्कृति के वाहक जब जातिपाति, छूत-अछूत और ऊंच-नीच की बात करें तो यह हास्यास्पद लगता है। सामाजिक व राष्ट्रीय एकता में दरार डालने वाले व्यवहार बंद होने चाहिए। Continue reading “उपेक्षित जातियों के उत्थान से नहीं हटे पीछे”

छुआछूत के विरोध में उठ खड़े हुए थे अवेद्यनाथ

शिव अवतार भगवान गुरु गोरक्षनाथ की पीठ प्रारंभ से ही जगत कल्याण के लिए रही। 20वीं शताब्दी के तीसरे दशक से गोरक्षपीठाधीश्वर महंत दिग्विजयनाथ के नेतृत्व में गोरक्षपीठ ने सामाजिक समरसता की जो मशाल प्रज्वलित की, उसे महंत अवेद्यनाथ ने थामे रखा। उन्होंने देशभर में छुआछूत विरोधी अभियान चलाए। 19 फरवरी 1980 को मीनाक्षीपुरम में सामूहिक धर्मांतरण की घटना ने बाल ब्रह्मचारी संन्यासी अवेद्यनाथ को अंदर तक हिला कर रख दिया। 180 हिंदू परिवार के हरिजनों को धर्मांतरित कर मुसलमान बना दिया गया। इस घटना से आहत महंत जी ने कहा कि यह धर्मांतरण नहीं सीधे-सीधे राष्ट्रान्तरण है। अब हम चुप नहीं बैठेंगे।

Continue reading “छुआछूत के विरोध में उठ खड़े हुए थे अवेद्यनाथ”

पुरी के शंकराचार्य ने महिला को वेद पाठ से रोका तो विरोध में खड़े हो गए थे अवेद्यनाथ

महंत अवेद्यनाथ राजनीतिक विरातस गुरुदेव गोरक्षपीठाधीश्वर महंत दिग्विजयनाथजी से प्राप्त हुई थी। 1962 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में गोरखपुर के मानीराम विधानसभा क्षेत्र से महंत अवेद्यनाथ पहली बार विधानसभा में पहुंचे। इसके बाद 1967, 1969, 1974 और 1977 के विधानसभा चुनाव में मानीराम से जीते।

Continue reading “पुरी के शंकराचार्य ने महिला को वेद पाठ से रोका तो विरोध में खड़े हो गए थे अवेद्यनाथ”

राम जन्मभूमि आंदोलन के अगुवा रहे महंत अवेद्यनाथ

श्रीराम जन्मभूमि को मुक्त कराने के लिए महंत अवेद्यनाथ ने सर्वप्रथम मत श्रेष्ठता बाद का खंडन किया। भारत के लगभग सभी पंथों शैव, वैष्णव इत्यादि के धर्माचार्यों को एक मंच पर खड़ा किया और श्रीराम जन्मभूमि मुक्ति यज्ञ समिति का गठन हुआ। 21 जुलाई 1984 को अयोध्या के वाल्मीकि भवन में सर्वसम्मति से महंत अवेद्यनाथ जी महाराज को समिति का अध्यक्ष चुना गया।

Continue reading “राम जन्मभूमि आंदोलन के अगुवा रहे महंत अवेद्यनाथ”

जानें योगी आदित्यनाथ के गुरु महंत अवेद्यनाथ के बारे में

गोरखनाथ पीठ के महंत योगी आदित्यनाथ आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं। उनके नेतृत्व में राज्य विकास की ओर बढ़ रहा है। योगी आदित्यनाथ को इस लायक बनाने में ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ का बड़ा ही योगदान है। वे उनके गुरु थे। उन्होंने आदित्यनाथ को जो शिक्षा दी, आज उसी का फल है कि गोरखनाथ पीठ की महत्ता पूरे विश्व में बनी हुई है। ऐसे महंत अवेद्यनाथ के जीवन के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं। हम किस्तों में इसे आपके सामने पेश करेंगे। आप अपने सुझाव और विचार भी हमें दे सकते हैं।

Continue reading “जानें योगी आदित्यनाथ के गुरु महंत अवेद्यनाथ के बारे में”